बिपिन रावत का जीवन परिचय | [Updated] Bipin Rawat Biography, Death, Wife, Family, Age wiki in Hindi

बुधवार को एक हेलीकॉप्टर अकस्मात में जनरल बिपिन लक्ष्मण सिंह रावत का दुःखद निधन हो गया है। बिपिन रावत को 30 दिसंबर 2019 को भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) के रूप में नियुक्त किया गया था। पूर्व भारतीय सेना प्रमुख ने 1 जनवरी 2020 से पद ग्रहण किया था। वह एक निडर व्यक्ती थे भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। आज हम भारत के पहले चीफ Bipin Rawat Biography देखेंगे।

Bipin Rawat Biography in Hindi

पूरा नाम:-बिपिन लक्ष्मण सिंह रावत
किस नाम से प्रसिद्ध:-बिपिन रावत
जन्म तारीख:-16 मार्च 1958
जन्म स्थान:-साइना गांव, बिरमोली, लैंसडाउन, पौड़ी, पौड़ी गढ़वाल, उत्तर प्रदेश, भारत (अब उत्तराखंड, भारत में)
पिता:-लक्ष्मण सिंह रावत
माता:-जानकारी नहीं है
स्कूल:-• कैम्ब्रियन हॉल स्कूल, देहरादून
• सेंट एडवर्ड स्कूल, शिमला
कॉलेज:-• राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खड़कवासला
• भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून
• रक्षा सेवा स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी), वेलिंगटन
• फोर्ट लीवेनवर्थ, कंसास में संयुक्त राज्य सेना कमान और जनरल स्टाफ कॉलेज
• मद्रास विश्वविद्यालय
• चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ
शिक्षा योग्यता:-• रक्षा सेवा स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी), वेलिंगटन से एमफिल की डिग्री
• मद्रास विश्वविद्यालय से प्रबंधन और कंप्यूटर अध्ययन में डिप्लोमा
• चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ से 2011 में डॉक्टरेट की उपाधि
पेशा:-सेना के जवान
प्रसिद्धी:-भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ होने के नाते
राष्ट्रीयता:-भारतीय
धर्म:-हिन्दू
जाति:-क्षत्रिय (राजपूत)
वैवाहिक स्थिति:-विवाहित
पत्नी:-मधुलिका रावत
बच्चे:-कृतिका रावत, उनकी 1 और बेटी भी है
मृत्यु:-8 दिसम्बर 2021
मृत्यु स्थान:-कुन्नूर, तमिलनाडु, भारत
मृत्यु के समय उम्र:-63 वर्ष
मृत्यु का कारण:-हेलिकाप्टर के अकस्मात के कारण
CDS Bipin Rawat Biography

बिपिन रावत का प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

बिपिन रावत का जन्म 16 मार्च 1958 को उत्तराखंड के पौड़ी में हुआ था। बिपिन रावत का जन्म हिंदू गढ़वाली राजपूत परिवार में हुआ था, जो कई पीढ़ियों से भारतीय सेना में सेवा कर रहे थे। उनके पिता लक्ष्मण सिंह रावत भारतीय सेना में सेवा करते हुए लेफ्टिनेंट जनरल के पद तक पहुंचे थे। उनकी मां उत्तरकाशी के पूर्व विधायक किशन सिंह परमार की बेटी थीं।

Bipin Rawat Biography
Bipin Rawat Biography इन हिन्दी

बिपिन रावत ने अपनी स्कूली शिक्षा कैम्ब्रियन हिल स्कूल, देहरादून और सेंट एडवर्ड स्कूल, शिमला से पूरी की थी। इसके बाद वे राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खडकवासला और भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून में शामिल हो गए। जहाँ उन्हें ‘स्वॉर्ड ऑफ़ ऑनर’ से भी सम्मानित किया गया था।

बिपिन रावत ने डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज (डीएसएससी), वेलिंगटन से भी शिक्षा प्राप्त की है और फोर्ट लीवेनवर्थ, कंसास में यूनाइटेड स्टेट्स आर्मी कमांड और जनरल स्टाफ कॉलेज में हायर कमांड कोर्स पूरा किया है। उनके पास रक्षा अध्ययन में एमफिल की डिग्री के साथ-साथ मद्रास विश्वविद्यालय से प्रबंधन और कंप्यूटर अध्ययन में डिप्लोमा है। सैन्य-मीडिया रणनीतिक अध्ययन पर उनके शोध के लिए उन्हें चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ द्वारा डॉक्टरेट ऑफ फिलॉसफी से सम्मानित किया गया था।

बिपिन रावत करियर

बिपिन रावत को 16 दिसंबर 1978 को 11 गोरखा राइफल्स की 5 वीं बटालियन में भर्ती कराया गया था। उसी यूनिट में उनके पिता थे। एक मेजर के रूप मे उन्होंने उरी,जम्मू और कश्मीर में एक कंपनी की कमान संभाली। कर्नल के रूप में उन्होंने किबिथू में वास्तविक नियंत्रण रेखा के साथ पूर्वी सेक्टर में 5 वीं बटालियन 11 गोरखा राइफल्स की कमान संभाली।

एक ब्रिगेडियर के रूप में उन्होंने सोपोर में राष्ट्रीय राइफल्स के 5 सेक्टर की कमान संभाली। इसके बाद उन्होंने कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य (MONUSCO) में एक अध्याय VII मिशन में एक बहुराष्ट्रीय ब्रिगेड की कमान संभाली। जहाँ उन्हें दो बार फोर्स कमांडर के लिए सम्मानित किया गया।

मेजर जनरल के पद पर पदोन्नति के बाद बिपिन रावत ने 19 वीं इन्फैंट्री डिवीजन (उरी) के जनरल ऑफिसर कमांडिंग के रूप में पदभार संभाला। एक लेफ्टिनेंट जनरल के रूप में उन्होंने पुणे में दक्षिणी सेना को संभालने से पहले दीमापुर में मुख्यालय वाली III कोर की कमान संभाली।

उन्होंने भारतीय सैन्य अकादमी (देहरादून) में एक अनुदेशात्मक कार्यकाल सैन्य संचालन निदेशालय में जनरल स्टाफ ऑफिसर ग्रेड 2 और मध्य भारत में एक पुनर्गठित आर्मी प्लेन्स इन्फैंट्री डिवीजन (RAPID) के लॉजिस्टिक्स स्टाफ ऑफिसर, कर्नल सहित स्टाफ असाइनमेंट भी संभाला।

सैन्य सचिव की शाखा में सैन्य सचिव और उप सैन्य सचिव और जूनियर कमांड विंग में वरिष्ठ प्रशिक्षक। उन्होंने पूर्वी कमान के मेजर जनरल जनरल स्टाफ (MGGS) के रूप में भी काम किया।

सेना कमांडर ग्रेड में पदोन्नत होने के बाद बिपिन रावत ने 1 जनवरी 2016 को जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ (जीओसी-इन-सी) दक्षिणी कमान का पद ग्रहण किया। एक छोटे कार्यकाल के बाद उन्होंने थल सेना के उप प्रमुख का पद ग्रहण किया। 1 सितंबर 2016 को।

बिपिन रावत चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ

17 दिसंबर 2016 को भारत सरकार ने बिपिन रावत को दो और वरिष्ठ लेफ्टिनेंट जनरल प्रवीण बख्शी और पी.एम. हारिज़ को पीछे छोड़ते हुए उन्हें 27 वें थल सेनाध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया। बिपिन रावत ने जनरल दलबीर सिंह सुहाग की सेवानिवृत्ति के बाद 31 दिसंबर 2016 को 27 वें सीओएएस के रूप में सेनाध्यक्ष का पदभार ग्रहण किया। वह फील्ड मार्शल सैम मानेकशॉ और जनरल दलबीर सिंह सुहाग के बाद गोरखा ब्रिगेड के थल सेनाध्यक्ष बनने वाले तीसरे अधिकारी थे।

ALSO READ:- SONU SHARMA BIOGRAPHY

बिपिन रावत सीडीएस (Bipin Rawat CDS)

31 दिसंबर 2019 को जनरल बिपिन रावत ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ का पद संभाला और भारत के पहले सीडीएस ऑफिसर बने।

बिपिन रावत पुरस्कार, सम्मान और उपलब्धियां

परम विशिष्ट सेवा पदक
उत्तम युद्ध सेवा पदक
अति विशिष्ट सेवा पदक
युद्ध सेवा पदक
विशिष्ट सेवा पदक
घाव पदक
सेना पदक
विशेष सेवा पदक
ऑपरेशन पराक्रम पदक
सामान्य सेवा पदक
उच्च ऊंचाई सेवा पदक
विदेश सेवा पदक
सैन्य सेवा पदक
19 वर्ष लंबी सेवा पदक
20 वर्ष लंबी सेवा पदक
30 वर्ष लंबी सेवा पदक
स्वतंत्रता पदक की 50 वीं वर्षगांठ
मोनुस्को
Bipin Rawat Awards & Honors
Bipin Rawat Biography
Bipin Rawat Biography in Hindi

बिपिन रावत हस्ताक्षर (Bipin Rawat Signature)

Bipin Rawat Biography
Bipin Rawat Biography in Hindi

बिपिन रावत net worth और वेतन

उनकी कुल संपत्ति के बारे में अभी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है और उनका मासिक वेतन लगभग 250,000 भारतीय रुपये है।

बिपिन रावत की मृत्यु कैसे हुई?

बुधवार 8 दिसंबर 2021 सुबह कुन्नूर शहर के पास पहाड़ियों में एमआई-17 वी 5 हेलीकॉप्टर के गिरने से चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी के सहित 11 अन्य की मौत हो गई।

उनकी मृत्यु का कारण हेलिकाप्टर दुर्घटना बताया जा रहा है। लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक उनको मरवाया गया है।

आपको क्या लगता है दोस्तों Bipin Rawat की मृत्यु हेलिकाप्टर दुर्घटना से हुई है या उनको मरवाया गया है? कमेन्ट में अपनी राय जरूर बताइये।

अगर आपको Bipin Rawat Biography पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए। अगर आप हमसे जुड़ना चाहते है तो हमारे Facebook Page को लाइक करे और हमसे जुडीये।

FAQ

बिपिन रावत कौन थे?

बिपिन रावत एक सीडीएस जनरल ऑफिसर हैं।

बिपिन रावत की पत्नी का नाम क्या है ?

मधुलिका रावत।

बिपिन रावत कितने साल के थे?

63 साल के थे जब उनकी मृत्यु हुई थी।

बिपिन रावत का निधन कब हुआ?

8 दिसंबर 2021

बिपिन रावत का निधन केसे हुआ?

बिपिन रावत का निधन हेलिकाप्टर के दुर्घटना के कारण हो गई।

बिपिन रावत का वेतन?

2.5 लाख हर महीने

Leave a Comment