निर्मला सीतारमण का जीवन परिचय | Nirmala Sitharaman Biography in Hindi

निर्मला सीतारमण जीवनी, आयु, करियर, पति, बच्चे, भारत के वित्त मंत्री (Nirmala Sitharaman Biography, Age, career, Husband, Children, Finance Minister of India)

निर्मला सीतारमण जो भारतीय जनता पार्टी उर्फ BJP से संबंधित एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं और वह वर्तमान में भारत के वित्त मंत्री और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्री के रूप में कार्यरत हैं। निर्मला सीतारमण 2014 से कर्नाटक से राज्यसभा की सदस्य हैं। आज के इस लेख में हम Nirmala Sitharaman Biography देखेंगे। जिसमे उनके जीवन से जुड़ी महत्वपूर्ण बाते साजा की गई है।

General Information (Nirmala sitharaman biography)

नाम:-निर्मला सीतारमण
जन्म:-18 अगस्त 1959
जन्म स्थान:-मदुरई, तमिलनाडु, भारत
पिता:-नारायण सीतारमण
माता:-सावित्री
भाई-बहन:-1 बहन
धर्म:-हिंदू
जाति:-ब्राह्मण
नागरिकता:-भारतीय
स्कूल:-सीतालक्ष्मी रामास्वामी कॉलेज, तिरुचिरापल्ली सीतालक्ष्मी
कॉलेज:-सीतालक्ष्मी रामास्वामी कॉलेज, तिरुचिरापल्ली जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली
शिक्षा योग्यता:-भारत-यूरोपीय वस्त्र व्यापार में अर्थशास्त्र में परास्नातक पीएचडी
पेशा:-राजनीतिज्ञ
राजनैतिक पार्टी:-भारतीय जनता पार्टी (BJP)
वैवाहिक स्थिति:-विवाहित
पति:-परकला प्रभाकर
बच्चे:-1 ल़डकि वांगमयी
वेतन:-1 लाख रुपये + अन्य भत्ते
उम्र:-62 वर्ष (2022)
सोशल मीडिया:-Instagram
Nirmala Sitharaman Biography

निर्मला सीतारमण का शुरुआती जीवन और परिवार (Nirmala Sitharaman’s Early Life and Family)

निर्मला सीतारमण का जन्म 18 अगस्त 1959 के दिन तमिलनाडु में स्थित मदुरई नामक जगह पर एक हिंदू ब्राम्हण के घर हुआ था। Nirmala Sitharaman ने अपने बचपन का अधिकांश समय तमिलनाडु के विभिन्न हिस्सों में बिताया था, क्योंकि उनके पिता नारायणन सीतारमन भारतीय रेलवे में काम करते थे और उनकी नौकरी स्थानांतरणीय थी। निर्मला सीतारमण ने अपनी स्कूली शिक्षा मद्रास और तिरुचिरापल्ली से की थी। निर्मला सीतारमण की माता का नाम सावित्री था जो एक गृहिणी थी। इसके अलावा उनकी एक बहन भी है।

निर्मला सीतारमण की शिक्षा (Nirmala Sitharaman Education qualification)

निर्मला सीतारमण ने सीतालक्ष्मी रामास्वामी कॉलेज से अर्थशास्त्र में स्नातक कि डिग्री हासिल की थी और अर्थशास्त्र में परास्नातक और दर्शनशास्त्र (एम.फिल) में परास्नातक करने के लिए वह जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली पढने गए थे।

निर्मला सीतारमण को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में राजनीति का सामना करना पड़ा था, जहां गोदावरी छात्रावास में रहते हुए उन्होंने अध्यक्ष पद के लिए नलिनी रंजन मोहंती के लिए जोरदार प्रचार किया था। इसके बाद निर्मला सीतारमण ने इंडो-यूरोपियन टेक्सटाइल ट्रेडों में पीएचडी के लिए दाखिला ले लिया, लेकिन इसे वह पूरा नहीं कर सकीं क्योंकि उनके पति ने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में छात्रवृत्ति हासिल की थी और वे लंदन चले गए थे। लंदन में निर्मला सीतारमण ने रीजेंट स्ट्रीट में होम डेकोर स्टोर हैबिटेट में सेल्सगर्ल के रूप में काम किया था।

निर्मला सीतारमण के पति (Nirmala Sitharaman Husband)

निर्मला सीतारमण ने कॉलेज में परकला प्रभाकर राजनीतिक टिप्पणीकार और संचार सलाहकार से मुलाकात की थी, जब वह जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में पढ़ रही थीं। इन दोनों ने साल 1986 में शादी कर लो और हमेशा के लिए शादी के पवित्र बंधन में बंध गए। इस दंपति की एक प्यारी बेटी भी है जिसका नाम वांगमयी है।

निर्मला सीतारमण का राजनैतिक करियर (Political Career of Nirmala Sitharaman)

निर्मला सीतारमण ने अपने करियर की शुरुआत लंदन में एग्रीकल्चरल इंजीनियर्स एसोसिएशन में एक अर्थशास्त्री के सहायक के रूप में शुरू कि थी। इसके बाद निर्मला सीतारमण ने प्राइसवाटरहाउसकूपर्स, लंदन के अनुसंधान विभाग में एक वरिष्ठ प्रबंधक के रूप में कार्य किया। उसके बाद उसने कुछ समय के लिए बीबीसी वर्ल्ड सर्विस में काम किया और वर्ष 1991 में निर्मला सीतारमण भारत में वापस लौट आईं। भारत मे आने के बाद निर्मला सीतारमण ने एक उप के रूप में कार्य किया। हैदराबाद में सार्वजनिक नीति अध्ययन केंद्र के निर्देशक थे। एनडीए शासन 1998-2004 के दौरान, निर्मला को राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) के लिए नामांकित किया गया था, लेकिन 2004 में यूपीए के केंद्र में आने पर उनका कार्यकाल तुरंत समाप्त हो गया।

जब निर्मला एनसीडब्ल्यू में शामिल हुईं, तो निर्मला सुषमा स्वराज के संपर्क में आईं। जंहा वो उनके काम से प्रभावित होकर पार्टी (भाजपा) से उनकी सिफारिश कर दी और साल 2008 में निर्मला सीतारमण भाजपा में शामिल हो गई। साल 2010 में निर्मला सीतारमण को पार्टी का प्रवक्ता नियुक्त किया गया था। बाद में निर्मला सीतारमण हैदराबाद से दिल्ली चली गई और साल 2014 में निर्मला सीतारामन नरेंद्र मोदी के कैबिनेट में स्वतंत्र प्रभार के साथ वाणिज्य मंत्री बन गई।

मंत्रिमंडल में फेरबदल करने के बाद निर्मला सीतारमण को पदोन्नत किया गया और उन्हें वित्त और कॉर्पोरेट मामलों का मंत्रालय दिया गया। 3 सितंबर 2017 को, निर्मला ने अरुण जेटली का स्थान लिया और भारत की पहली पूर्णकालिक महिला रक्षा मंत्री बनीं। वह इंदिरा गांधी के बाद इस पद को संभालने वाली देश की दूसरी महिला बनीं। जिसने एक बार 20 दिनों तक कार्यभार संभाला था और 30 मई 2019 को, निर्मला भारत की पहली पूर्णकालिक महिला वित्त मंत्री बनीं।

निर्मला सीतारमण का वेतन और कुल संपति(Nirmala Sitharaman Salary And Net Worth)

निर्मला सीतारमण की कुल संपत्ति 2.63 करोड़ रुपये होने का अनुमान है। निर्मला सीतारामन को उनके वेतन के रूप मे 1 लाख रुपये प्लस कुछ अन्य भत्ते संसद सदस्य के रूप में मिलते हैं।

अंतिम शब्द (last word)

दोस्तो इस लेख में हमने भारत की महिला वित्त मंत्री की जीवनी देखी। अगर Nirmala Sitharaman Biography पढ़कर आपको अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों और परिवार वालो के साथ भी जरूरी शेयर कीजिए जिससे वह भी हमारे देश की वित्त मंत्री के बारे मे जान सके। आशा कर्ता हूँ आपको Nirmala Sitharaman Biography अच्छी लगी होगी और कुछ कमी हो तो हमे कमेंट् करके जरूर बताईए।

FAQ

निर्मला सीतारमण की उम्र कितनी है?

62 वर्ष (2022 में)

निर्मला सीतारमण का जन्म कब हुआ था?

18 अगस्त 1959

निर्मला सीतारमण की भूमिका क्या है?

2019 से भारत के वित्त मंत्री।

निर्मला सीतारमण के पति कौन हैं?

परकला प्रभाकर

निर्मला सीतारमण का जन्म कहाँ हुआ था?

मदुरई, तमिलनाडु, भारत

Leave a Comment