fbpx

रवीश कुमार ने दिया NDTV से इस्तीफा | Ravish Kumar Biography In Hindi, Death Threats? Number 1 Journalist

कौन है रवीश कुमार क्या आपने भी यह नाम पहली बार सुना है? रविस रवीश कुमार भारत के प्रसिद्ध पत्रकार है जो NDTV के Prime Time में दर्शकों को काफी पसंद आते है और रवीश कुमार हमेशा तीखे सवाल पूछते हैं जिस वजह से वह सुर्खियों में रहते है।

आज के इस लेख में हम रवीश कुमार के बारे मे यानिकी Ravish Kumar Biography In Hindi देखेंगे जिसमें आप Ravish Kumar Biography, Ravish Kumar Salary, Ravish Kumar Caste, Ravish Kumar Prime time, Ravish Kumar NDTV, Ravish Kumar NDTV Salary, Prime Time Ravish In Hindi, Ravish Kumar Age देखेंगे।

पत्रकार रवीश कुमार का जीवन परिचय (Ravish Kumar Biography In Hindi)

नाम:-रविश कुमार पांडेय
उपनाम:-रविश कुमार
जन्म तारीख:-5 दिसंबर 1974
जन्म स्थान:-मोतीहारी, बिहार, भारत
उम्र:-47 वर्ष (2022 मे)
व्यावसाय:-टीवी ऐंकर, पत्रकार, लेखक
माता:-अपडेट सुन
पिता:-बलिराम पांडे
भाई:-ब्रजेश कुमार पाण्डेय
स्कूल:-लॉयला हाई स्कूल, पटना, भारत
कॉलेज:-1. देशबंधु कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय
2. इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, नई दिल्ली, भारत
शैक्षणिक योग्यता:-1. इतिहास में बी.ए और एम.ए
2. एम.फिल
3. पत्रकारिता में स्नातकोत्तर डिप्लोमा
राष्ट्रीयता:-भारतीय
धर्म:-हिंदू
जाति:-ब्राह्मण
गर्लफ्रेंड:-नयना दासगुप्ता (Nayana Dasgupta Age 42 वर्ष)
वैवाहिक स्थिति:-विवाहित
पत्नी:-नयना दासगुप्ता
बच्चे:-दो बेटियां
न्यूज चैनल:-NDTV India (वर्ष 1996 से जुड़े हुए)
पद:-NDTV India में वरिष्ठ कार्यकारी संपादक
नेट वर्थ:-20 मिलियन डॉलर (158 करोड़ भारतीय रुपये)
Ravish Kumar Biography In Hindi

रविश कुमार जन्म, शुरुआती जीवन और परिवार (Ravish Kumar Biography In Hindi)

NDTV Prime Time के एंकर रविश कुमार का जन्म मोतीहारी, बिहार, भारत में 5 दिसंबर 1974 के दिन एक हिंदू ब्राह्मण परिवार में हुआ था। रविश कुमार ने अपना बचपन मोतीहारी के एक छोटे गाँव जितवारपूर में अपना जीवन जिया है।

रविश कुमार का पूरा नाम रविश कुमार पाण्डेय है। रविश कुमार के पिताजी का नाम बलिराम पाण्डेय है, जो पूर्वी चंपारण के जितवारपुर गांव में रहते हैं। इन्टरनेट पर हमने Ravish Kumar Mother Name के बारे मे जानकारी लेने का प्रयत्न किया लेकिन उनकी माता का नाम अभी इन्टरनेट पर मौजूद नहीं है।

रविश कुमार का एक भाई भी है जिसका नाम ब्रजेश कुमार पाण्डेय है और वह ऐक्टिव राजनीतिज्ञ है। जिसने भारतीय कांग्रेस के टिकिट पर चुनाव लड़ा था लेकिन सेक्स स्कैंडल में उनका नाम बाहर आने के बाद उसको कांग्रेस पार्टी छोड़नी पडी थी।

रविश कुमार शिक्षा (Ravish Kumar Education Qualification)

रवीश कुमार ने अपने जीवन की प्राथमिक शिक्षा लोयोला हाई स्कूल, पटना से प्राप्त की थी और इसके बाद वह उच्च शिक्षा प्राप्ति करने के लिए दिल्ली चले गए थे और उन्होंने वंहा दिल्ली विश्वविद्यालय के देशबंधु कॉलेज से अपनी स्नातक की पढ़ाई को पूरा किया। स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद रविश कुमार के शिक्षको ने उनको पत्रकारिता की पढ़ाई करने के लिए सलाह दी थी।

Outlook में रविश कुमार ने इंटरव्यू दिया था जिसमें उन्होंने बताया था कि शिक्षकों की सलाह से उसने पत्रकारिता करने के लिए भारतीय जनसंचार संस्थान (IIMC) मे पत्रकारिता में स्नातकोत्तर डिप्लोमा में दाखिला ले लिया लेकिन, वह IIMC का कोर्स पूरा नहीं कर सके क्युकी वह इतिहास बैकग्राउंड का विद्यार्थि था इसलिए उसको IIMC का कोर्स समझ मे ही नहीं आ रहा था।

Ravish Kumar Education Qualification में (इतिहास में B.A और M.A) M.Phil और पत्रकारिता में स्नातकोत्तर डिप्लोमा योग्यताएं शामिल हैं।

रवीश कुमार पत्नी (Ravish Kumar Wife And Ravish Kumar Love Story)

रविश कुमार जब कॉलेज में M.Phil की पढ़ाई कर रहे थे तब उनकी मुलाकात पहली बार नयना दासगुप्ता (Nayana Dasgupta) से हुई थी। जेएनयू से पढ़ी-लिखी नयना दासगुप्ता की उम्र (Nayana Dasgupta Age) साल 2022 में 42 साल है। रविश कुमार और नयना दासगुप्ता एक दूसरे को पसंद करते थे और दोनों ने एक-दूसरे को 7 सालो तक डेट किया और बाद में उन्होंने शादी कर ली।

Ravish kumar biography in hindi
Ravish Kumar And Nayana Dasgupta

Ravish Kumar और Nayana Dasgupta के शादी के शुरुआती दिनों में उनके माता-पिता को उनकी शादी से ऐतराज था क्युकी उन्होंने इंटरकास्ट शादी की थी लेकिन समय के साथ सब ठीक हो गया और आज इन दंपति की दो बेटियां भी है। नयना दासगुप्ता मूल रूप से बंगाल से ताल्लुक रखती हैं और इन दिनों प्रसिद्ध लेडी श्री राम कॉलेज में इतिहास की प्रोफेसर हैं।

रविश कुमार करियर (Ravish Kumar Career)

NDTV न्यूज एंकर रवीश कुमार का नाम उनके पत्रिकारिता करने की शैली के कारण अलग ही है। रवीश कुमार ने अपने करियर की शुरुआत साल 1996 में NDTV India के साथ शुरू कि थी और 26 सालो तक NDTV का हिस्सा रहे लेकिन 22 नवंबर 2022 को अडानी समूह ने ब्रॉडकास्टर में अपने अतिरिक्त 26% हिस्सेदारी हासिल करने की प्रक्रिया शुरू की थी जो अगस्त में घोषित 29.18% हिस्सेदारी के अधिग्रहण के बाद, इसे 55% नियंत्रित हिस्सेदारी देता है। इसलिए रवीश कुमार ने NDTV से इस्तीफा दे दिया।

रविश कुमार ने अपने कार्यकाल के दौरान NDTV India में कई शो किए है जिसमें (प्राइम टाइम, देश की बात, हम लोग) इत्यादि जैसे कार्यक्रम शामिल है। रविश कुमार ने NDTV में रहते हुए धीरे धीरे कामयाबी के ऊंचाईयो का आसमान छुआ है। यहां तक की रविश कुमार एनडीटीवी में रहते हुए कार्यकारी सदस्य बनने तक का सफर किया है।

रविश कुमार ने अपनी रिपोर्टिंग में पक्षों की बजाय आम जनता से जुड़े हुऐ मुद्दो को उठाया और उनकी परेशानियों को दुनिया के समक्ष पेश किया है। एसी ही आम जनता से जुड़ी जमीनी सिलसिले में रिपोर्टिंग की है जिस कारण लोगों से भारी सहारना मिली है। रविश कुमार की तीखी रिपोर्टिंग के कारण उनको कई बार जान से मार डालने की धमकी भी मिल चुकी है और वह लोग अभी पावरफुल व्यक्ती हो गए है।

रविश कुमार की पुस्तकें (Ravish Kumar Books)

रवीश कुमार ने पत्रकारिता के साथ-साथ अपने करियर में सात पुस्तकें लिखी हैं। रवीश कुमार एक प्रसिद्ध पत्रकार के साथ-साथ एक बेहतरीन लेखक भी हैं।

Ravish Kumar Books List

  • बोलना ही है: लोकतंत्र, संस्कृति और राष्ट्र के बारे में (हिंदी भाषा में)
  • इश्क में शहर होना (हिंदी भाषा में)
  • द फ्री वॉयस: ऑन डेमोक्रेसी, कल्चर एंड द नेशन 
  • देखते रहिये (हिंदी भाषा में)
  • रवीशपंती (हिंदी भासा में) 
  • प्यार में एक शहर होता है।

रविश कुमार अवॉर्ड और पुरूस्कार (Ravish Kumar Awards and Prizes)

रविश कुमार ने पत्रकारिता के द्वारा अपने जीवन मे बहुत से कार्य किए है। जिसके लिए उनको तरह-तरह के पुरस्कार से सम्मानित किया है Ravish Kumar Award List में रेमन मैग्सेसे पुरस्कार (2019), वर्ष 2010 में रवीश कुमार को गणेश शंकर छात्र पुरस्कार राष्ट्रपति के द्वारा मिला था। वर्ष 2013 और वर्ष 2017 में पत्रकारिता के क्षेत्र में रामनाथ गोयनका पुरस्कार मिला था।

वर्ष 2014 में भारतीय टेलीविजन द्वारा सर्वश्रेष्ठ टीवी एंकर का पुरस्कार मिला और साल 2016 में इंडियन एक्सप्रेस द्वारा रवीश कुमार को 100 सबसे प्रभावशाली भारतीयों की सूची में शामिल किया था। पत्रकारिता में रवीश कुमार को गौरी लंकेश का पुरस्कार मिला है और रवीश कुमार को मुबंई प्रेस क्लब की तरफ से जर्नलिस्ट ऑफ द ईयर का अवार्ड भी मिल चूका है।

रवीश कुमार नेट वर्थ और रवीश कुमार वेतन (Ravish kumar Net Worth And Ravish Kumar Salary)

आइए दोस्तों अब हम Ravish Kumar Net Worth और Ravish Kumar Salary के बारे मे जानते है। बहुत से लोग तो इस पोस्ट में Ravish Kumar Net Worth जानने के लिए ही आए है। अपने बहुत रिसर्च की और Ravish Kumar Salary के बारे मे पता लगाया है। रविश कुमार उच्चतम वेतन पाने वाले रिपोर्टर है। जिसने बहुत से लोकप्रिय शो को होस्ट किया है जैसे कि रविश की रिपोर्ट, हम लोग, प्राइम टाइम जिसके लिए उसको भारी तनखा मिली है।

रविश कुमार की कुल संपति तकरीबन 158 करोड़ रुपये जितनी है और अमेरिकन डॉलर में 20 मिलियन है। यह राशि उन्होंने अपने कला से कमाया है। Ravish Kumar Salary एक महीने की 20 से 25 लाख होती है और वार्षिक आय 2.5 करोड़ से 3 करोड़ तक होती है।

Also Visit:- Swami Vivekananda Biography

Also Visit:- Sardar Vallabhbhai Patel Biography

Also Visit:- Amit lodha Biography

FAQ’S About Ravish Kumar Biography In Hindi

रविस कुमार का जन्म कब हुआ था?

रविस कुमार का जन्म 5 दिसंबर 1974 को हुआ था।

रविस कुमार कोन है?

रविस कुमार भारत के प्रसिद्ध टीवी ऐंकर, पत्रकार एवं लेखक है।

Ravish kumar Caste Name?

रविश कुमार की जाति ब्राह्मण है।

Ravish Kumar Wife का नाम क्या है?

रवीश कुमार की पत्नी का नाम Nayana Dasgupta है।

Ravish Kumar Salary कितनी है?

रविश कुमार की सैलरी 20 से 25 लाख प्रति माह है।

Ravish Kumar Net Worth कितनी है?

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक रविश कुमार की कुल संपति तकरीबन 158 करोड़ रुपये जितनी है।

Ravish Kumar Biography In Hindi को अंत तक पढ़ने के लिए खूब खूब धन्यवाद कृपया इस लेख को अपने दोस्तों और परिवार के साथ जरूर शेयर करे ताकि वोह भी Ravish Kumar Biography का आनंद उठा सके और अपना ज्ञान बड़ा सके। एसे ही और जीवनी पढ़ने के लिए हमको Facebook और YouTube पर जरूर फॉलो करे।

Leave a Comment